The Punarjeevan of Guru ji

If there is no punarjeevan after mrutyu,
then Guru ji Muktidatta is still mrut |
if Guru ji Muktidatta has not taken punarjeevan,
our vishvaas is nakama ||
But Guru ji Muktidatta has definitely taken punarjeevan |
Because he is the first, everyone will take punarjeevan ||


यदि मृत्यु के बाद कोई पुनर्जीवन नहीं है, तो गुरु जी मुक्तिदत्त अभी भी मृत है |
यदि गुरु जी मुक्तिदत्त ने पुनर्जीवन नहीं लिया है, तो हमारा विश्वास निकम्मा है ||
लेकिन गुरु जी मुक्तिदत्त ने ज़रूर पुनर्जीवन लिया है |
क्योंकि वह पहला है, सभी लोग पुनर्जीवन लेंगे ||


মৃত্যুর পর কোনও পুনর্জীবন নেই, তবে গুরু জি মুক্তিদত্ত এখনও মৃত।
যদি গুরু জি মুক্তিদত্ত পুনর্জীবন না, আমাদের বিশ্বাস নিরর্থক।।
কিন্তু গুরু জি মুক্তিদত্ত অবশ্যই পুনর্জীবন গ্রহণ করেছেন।
কারণ তিনি প্রথম,প্রত্যেকেই পুনর্জীবন নেবে ।।


यदि मृत्यु पछि कुनै पुनर्जीवन छैन, गुर जी मुक्ति दत्त अझै पनि मरेको छ |
यदि गुरु जी मुक्तिदत्तले हामीलाई पुनर्जीवन गरेको छैन भने हाम्रो विश्वास बेकार हो ||
तर गुरु जी मुक्तिदत्तले निश्चित रूपमा पुनर्जीवन गरेको छ |
किनकि त्यो पहिलो हो, सबैलाई पुनर्जीवन गरिनेछ ||

Hits: 64